हमारे लेखकों के बारे में

 


एड्डी क्लोअर

एड्डी क्लोअर ने सिएरसी, अरकंसास में हार्डिंग यूनिवर्सिटी; ओकलाहोमा सिटी में ओकलाहोमा क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी; और मेंफिस,टेनेसी में स्थित हार्डिंग यूनिवर्सिटी ग्रेजुएट स्कूल ऑफ रिलीजन में शिक्षा ग्रहण की है। वह B.A., M.Th., और D.Min. डिग्री धारक हैं। उनका शोध प्रबंध इंजीलवाद के उपदेश पर केंद्रीत है। पपंद्रह वर्ष की आयु से उपदेश देना शुरू करके उन्होंने चौदह वर्षों से ज्यादा समय तक सुसमाचारों का प्रचार करते हुए अरकंसास में क्लार्कसविले, ीॉट स्प्रिंग और ब्लिथविले में जनसमुदाय की सेवा की है। उन्होंने अमरिका और अन्य अनेक देशों जिनमें इंग्लैण्उ, सिंगापुर, यूक्रेन और भारत में 850 से भी अधिक सभाओं में सुसमाचारों के उपदेश दिए हैं। क्लोअल हार्डिंग यूनिवर्सिटी में बाइबल और उपदेश कक्षाएं पढ़ाते हैं। सन् 1981 से क्लोअल ने धर्मउपदेशकों और शिक्षकों के लिए एक मासिक प्रकाशन Truth for Today को संपादन और प्रकाशि‍त कर रहे हैं। सन् 1990 में ह्युस्टन, टेक्सास में वर्ल्ड बाइबल स्कूल शिक्षकों और चैंपियन चर्च ऑफ क्रिस्ट के सहयोग से उन्होंने Truth for Today की शुरूआत की थी। इसका व्याख्यात्मक बाइबल अध्ययन 140 से अधिक देशों में लगभग 40,000 उपदेशकों और शिक्षकों की मदद करता है।
एड्डी क्लोअर

सैलर्स एस. क्रेन, जूनियर

डा. सैलर्स एस. क्रेन, जूनियर 50 वर्षों से शिक्षाएं और उपदेश रहे हैं और लुइसियाना, अल्बामा, केंटुकी औी टेनेसी में जनसमुदाय की सेवा की है। अल्बामा में एथेंस स्टेट यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट क्रेन ने अल्बामा क्रिश्चियन स्कूल ऑफ रिलीजन (अब एमरिज यूनिवर्सिटी) और लूथर राइस सेमनार से मास्टर्स डिग्री हासिल की हैं। उन्होंने अपनी D.Min. डिग्री डि‍यरफील्ड, इलीनोइस में ट्रिनिटी इवेंजेलिकल डिवाइनिटी स्कूल (अब ट्रिनिटी इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी) से प्राप्त की है। क्रेन टेनेसी पब्लिक स्कूल सिस्टम और बाइबल अध्ययन के अनेक स्कूलों में शिक्षक रहे हैं, गुइन, अल्बामा में स्कूल ऑफ वर्ल्ड इवेंजिल्जि‍म और मेडिसन, टेनेसी में मिड-साउथ स्कूल ऑफ बाइबलिकल स्टडीज के डायरेक्टर के रूप में सेवाएं दी हैं। उन्होंने यूक्रेन, ग्रीस, पेरू और पनामा मैं भी पढ़ाया है और ग्यारह देशों में तेइस मिशन यात्राएं की हैं। एक सर्जनात्मक लेखक के रूप में क्रेन ने 1,500 से अधिक लेख और पैंतीस पाठ्यक्रम पुस्तकें लिखी हैं। उनके लेख विभिन्न जनरलों में प्रकाशि‍त हुए हैं जिनमें Gospel Advocate और Power for Today भी शामिल हैं। पाँच वर्षों से वह एक वार्षिक वयस्क कमेंटरी, Gospel Advocate Companion लिखी है। उन्होंने The World Evangelist बोर्ड सदस्य के रूप में सेवाएं दी हैं और 21वीं सदी क्रिश्चियन के लिए जूनियर और सीनियर हाई बाइबल क्लास सामग्रि‍यां लिखी हैं।

इसके अलावा उन्होंने अनेक व्याख्यानों, सुसमाचार सभाओं और विशेष उायोजनों में भाषण दिए हैं। उनके भाषणों का रेडियो और टेलीविजन कार्यक्रमों में भी प्रसारण हुआ है।

सैलर्स और उनका पत्नी वैंडा का विवाह 1961 में हुआ था। उनके तीन बच्चे और चार नाती पोते हैं।

सैलर्स एस. क्रेन, जूनियर

अर्ल डी. एडवर्ड

डा. अर्ल डी. एडवर्ड ने अपने जीवन को प्रमात्मा के उपदेशों का प्रचार, मिशनों और स्कॉलरशिप के लिए समर्पित कर दिया है। उन्होंने सेंट्रल क्रिश्चियन कॉलेज (अब ओकलाहोमा क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एन्ड आर्टस) में शिक्षा ग्रहण की और उन्होंने कम्युनिकेशन्ज में अपनी B.A. डिग्री डेविड लिप्सकोम्ब कॉलेज से हासिल की। उन्हेंने M.Th. डिग्री हार्डिंग ग्रेजुएट स्कूल से प्राप्त की और अपनी D.Miss. डियरुील्ड, इलीनोइस में ट्रिनिटी डिवाइनिटी स्कूल से पूरी की थी। एडवर्ड ने 1952 में उपदेश देने की शुरूआत की और एक मिनीस्टर के रूप में कंसास, अरकंसास, सिसली और फ्लोरेंस (इटली) (1960-1976) में सेवाएं दी हैं। उन्होंने Gospel AdvocateSpiritual Sword और अन्य पत्रिकाओं के लिए लेख लिखे हैं और Protecting Our “Blind Side” के लेखक हैं। एडवर्ड ने 1976 से 1977 तक मिशनों के विजिटिंग प्रोफेसर के रूप में हार्डिंग यूनिवर्सिटी में अध्यापन कार्य किया है। 1982 में उन्होंने फ्रीड-हार्डमेन यूनिवर्सिटी में अध्यापन की शुरूआत की थी जहां उन्होंने 1991 से 1993 तक स्कूल ऑफ बाबलिकल स्टडीज के डीन और 1989 से 2008 तक डायरेक्टर ऑफ ग्रेजुएट स्टडीज इन बाइबल के तौर पर सेवाएं दी हैं। उनके उल्लेखनीय शिक्षण कार्य के लिए फ्रीड-हार्डमेन द्वारा अनेक बार सम्मानित किया गया है। ओकलाहोमा क्रिश्चि‍यन ने 1998 में कालेज ऑफ बाइबलिकल स्टडीज के लिए एल्युमनि ऑफ द ईयर नामित किया था। 2004 में उन्हें सालाना FHU लेक्चरशिप के लिए एप्रीशिएशन डिनर से सम्मानित किया गया।

एडवर्ड ने 1953 ग्वेंडोलिन हॉल से विवाह किया और उसकी 1986 में उसकी मृत्यु तक साथ रहे। इस विवाह से उनके दो बच्चे टैरी और केयर्न और आठ नाती पोते हैं। एडवर्ड ने 1988 में फार्मर लॉरा यंग से दोबारा शादी की थी।

अर्ल डी. एडवर्ड

विलियम डब्ल्यू. ग्राशम

डा. विलियम डब्ल्यू. ग्राशम साठ से भी अधिक वर्षों से टेक्सास, कैलिफोर्निया, एरिजोना, जर्मनी और स्कॉटलैंड में उपदेश देते रहे हैं। उन्होंने पीप्पडाइन यूनिवर्सिटी से 1962 में B.A. और 1968 में M.A. डिग्री प्राप्त की और 1975 में एबीलेन क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी से M.Div. पूरी की। उन्हें स्कॉटलैंड की अबरडीन यूनिवर्सिटी से 1985 में शोध प्रबंध पूरा करने पर Ph.D. की उपाधि दी गई जिसमें डेड सी स्क्रॉल के लेखकों, कुमरान समुदाय के स्वभाव का परीक्षण किया है। 1975 से 1978 तक ग्राशम का परिवार कैसरस्लॉतेर्ण, जर्मनी में रहा था जहां उन्होंने एक अमेरिकी मिल्ट्री जनसमुदाय के लिए उपदेश दिए। उसके बाद वे अबरडीन, स्कॉटलैंड चले गए ताकि वे अपनी शिक्षा जारी रख सकें। वहां रहते हुए उन्होंने लॉर्ड’स चर्च के लिए एक स्थानीय समुदाय स्थापित करने में मदद की। ग्राशम ने पोस्ट डॉक्टरेट अध्ययन येरूशलम की हीब्रू यूनिवर्सिटी से किया और इस्राइल के तेल डोर में पुरातत्व खुदाई में भी हिस्सा लिया। पंद्रह से भी अधिक वर्षो तक उन्होंने डलास, टेक्सास में में सेंटर फॉर क्रिश्चियन एजुकेशन में ओल्ड और न्यू टेस्टामेंट और बाइबल धर्मशास्त्र की शिक्षण कार्य किया है। वह 2005 में सेवा‍नि‍वृत्त हुए लेकिन  ग्रेजुएट विद्यार्थियों के लिए बाइबल और आर्कियोलॉजी और ओल्ड टेस्टामेंट में सुसमाचारों पर सेमीनार प्रस्तुत करना जारी रखा।

उन्हें और उनकी पत्नी एलीनोर को चार बच्चों, सत्रह पौत्रों और ग्यारह परपौत्रों का सौभाग्य प्राप्त है।

विलियम डब्ल्यू. ग्राशम

डेटन कीजी

डेटन कीजी एबीलेन क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट हैं और उन्होंने अपनी M.A. बटलर यूनिवर्सिटी, इंडियानापोलिस, इंडियाना से हासिल की है, और लैंग्वेज और काउंसलिंग में अध्ययन भी कर रहे हैं। उन्होंने एक पूर्णकालिक उपदेशक के रूप में इंडियाना, लुइसियाना, टेक्सास, और ओलाहोमा में सेवाएं दी हैं और नाइजीरिया, अफ्रीका में बाइबल प्रशिक्षण स्कूल और उपदेश सेमिनार आयोजित किए हैं। उनका अध्यापन और मिशन कार्य उन्हें कनाडा, यूक्रेन, भारत, दक्षिण अफ्रीका, त्रिनिदाद, और रूस लेकर गया है। इक्कीस वर्षों तक वह लुब्बोक में सनसेट स्कूल ऑफ प्रीचिंग (अब सनसेट इंटरनेशनल बाइबल इंस्टीट्युट) में इंस्ट्रक्टर रहे थे। इस समय के दौरान उन्होंने कम सकम पैंतीस राज्यों में सुसमाचार सभाएं, लीडरशिप वर्कशप, क्रिश्चियन होम सेमिनार और शिक्षक-प्रशिक्षण कोर्स आयोजित किए। एक कक्षा शिक्षक के रूप में भाई कीज के कार्य का विस्तार सनसेट सैटेलाइट स्कूल प्रोग्राम तक है जिसमें उनके क्रिश्चियन होम और बुक ऑन यिर्मयाह पर टेप किए गए कोर्सों की विशेषताएं हैं। एक लेखक के रूप में उन्होंने Restoration Revival: The Way (Back) to GodHebrews: A Heavenly HomilyA Re-Evaluation of the EldershipTeacher Training ToolsA Chronological Survey of the Old Testament, और The Churches of Christ during the Civil War पर किए गए कार्य प्रकाशित करवाए हैं।

उनके और उनकी पत्नी से तीन वयस्क बच्चे : डिटा सिमोएना हवाई में, टोंजा रामबो अलास्का में और डेरेन कीज टेक्सास में हैं।

डेटन कीजी

जे लॉकहार्ट

जे लॉकहार्ट वेस्ट वर्जिनिया के मूल निवासी हैं, उन्होंने फ्रीड-हार्डमैन यूनिवर्सिटी और लिप्सकोम्ब यूनिवर्सिटी में शिक्षा ग्रहण की जहां से उन्होंने बाइबल में B.A. डिग्री प्राप्त की है। उन्होंने हार्डिंग ग्रेजुएट स्कूल ऑफ रिलीजन से न्यू टेस्टमेंट पर ध्यान देते हुए M.A. डिग्री हासिल की है। उन्होंने ट्रिीनिटी थियोलॉजीकल सेमिनारी से चर्च प्रशासन में एडवांस्ड स्टडीज पूरी की है। लॉकहार्ट ने प्लपिट मिनीस्टर के रूप में टाइलर, टेक्सास में तेइस वर्षों तक सेवाएं दी हैं और अब बेंटन, केंटुकी चर्च में सेवाएं दे रहे हैं। वे टेलीविजन और रेडियो कार्यक्रमों के प्रोस्तता रहे हैं और अनके क्रिश्चियन साहित्य लिखे हैं। वह 1997 से फ्रीड-हार्डमैन यूनिवर्सिटी के बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज के रूप में सेवारत हैं। लॉकहार्ट और उनकी पत्नी आर्लेन के तीन बच्चे और छह पौत्र हैं।
जे लॉकहार्ट

ब्रूस मैकलार्टी

ब्रूस मैकलार्टी हार्डिंग यूनिवर्सिटी के प्रेजीडेंट हैं। उन्होंने हार्डिंग यूनिवर्सिटी से बाइबल में B.A. और हार्डिंग यूनिवर्सिटी ग्रेजुएट स्कूल ऑफ रिलीजन से M.Th.डिग्री प्राप्त की हैं। उन्हें एशलैंड, ओहियो में स्थित एशलैंड थियोलॉजीकल सेमीनारी में D.Min. उपाधि प्रदान की गई है। 1999 में उन्हें हार्डिंग के “आउटस्टैंडिंग एल्युमनी” इन बाइबल के रूप में नामित किया गया था। मैकलार्टी ने इस सीरिज में मिनीस्ट्री अनुभव का विशाल योगदान दिया है। उन्होंने अरकंसास, मिसिसिपी, और टेनेसी में चर्चों में उपदेश दिए हैं। दो वर्षों तक वह और उनका परिवार मेरू, केन्या में मिशनरीज रहे हैं। 1991 से 2005 तक सिएरसी, अरकंसास में स्थित कालेज चर्च ऑफ क्रिस्ट में प्लपिट मिनिस्टर के रूप में सेवाएं दी हैं। उनके और उनकी पत्नी एन से दो बेटियां चैरिटी और जेसिका हैं।
ब्रूस मैकलार्टी

एडवर्ड पी. मायर्स

एडवर्ड पी. मायर्स सिएरसी, अरकंसास में स्थित हार्डिंग यूनिवर्सिटी में बाइबल और ईसाई सिद्धांत के प्रोफेसर हैं। उन्होंने टेक्सास, ओकलाहोमा, ओहियो, वेस्ट वर्जीनिया, टेनेसी, और अरकंसास में जनसमुदाय के मिनीस्टर के रूप में सेवाएं दी हैं। वह लूथर राइस सेमिनारी से D.Min. और ड्रयू यूनिवर्सिटी से Ph.D. धारक हैं। वह अनेक पुस्तकों के लेखक हैं जिनमें A Study of Angels, Evil and Suffering और After These Things I Saw: A Study of Revelation शामिल हैं। उनके और उनकी पत्नी जेनीस की तीन बेटियां कैंडी, क्रिस्टी और केरोलिन हैं।
एडवर्ड पी. मायर्स

ओवेन डी. ऑलब्रिश्ट

ओवेन डी. ऑलब्रिश्ट का जन्म थायर, मिसौरी में हुआ था और हार्डिंग यूनिवर्सिटी में शिक्षा ग्रहण की थी जहां उन्होंने भाषण में B.A. की है। उन्होंने हार्डिंग यूनिवर्सिटी ग्रेजुएट स्कूल ऑफ रिलीजन से बाइबल में M.A. और M.R.E. डिग्री हासिल की हैं। 1980 में हार्डिंग ने उनको “आउअस्टैंडिंग एल्युमनी” इन बाबल पुरस्कार से सम्मानित किया। उन्होंने अरकंसास, मिसौरी, और न्यू जर्सी के चर्चों में स्थानीय मिनीस्ट्री के रूप में सेवाएं दी हैं। 1964 में उन्होंने अमेरिका नॉर्थईस्ट/साउथईस्ट अभियानों के साथ कार्य करने शुरूआत की। इन प्रयासों को परिणाम तीन सौ से भी अधिक अीिायानों और तीन हजार बैप्टिज्म के रूप में हुआ। कुल मिलाकर, उन्होंने इंग्लैंड, यूक्रेन, रूस, कनाडा, मैक्सिको, हैती, जमैका, वेनेजुएला, और अमेरिका के तीस राज्यों में इंजीलवाद के लिए प्रयासों को नेतृत्व दिया है।
ओवेन डी. ऑलब्रिश्ट

मार्टेल पेस

मार्टेल पेस का जन्म अरकंसास और पालन-पोषण फ्लिंट, मिशगन में हुआ था। उन्होंने सत्रह वर्ष की आयु में अपना पहला धर्मोपदेश 1952 में दिया और 1956 में पूर्णकालिक 1956 उपदेशक के रूप शुरूआत की। उपदेशक के रूप में पचास से अधिक वर्षों में पेस ने अरकंसास, मिशिगन, मिसौरी, और अल्बामा में जनसमुदाय को सेवाएं दी हैं। वह वर्तमान में मोंटगुमरी, अल्बामा में यूनिवर्सिटी चर्च ऑफ क्रिस्ट में इनवोल्वमेंट मिनीस्टर के रूप में सेवाएं दे रहे हैं और मोंटगुमरी, अल्बामा में फाल्कनर यूनिवर्सिटी के V. P. ब्लैक कालेज ऑफ बाइबलिकल स्टडीज में पार्ट टाइम शिक्षण कार्य करते हैं। पेस ने हेंडरसन, टेनेसी में फ्रीड-डार्डमेन यूनिवर्सिटी; सिएरसी, अरकंसास में हार्डिंग यूनिवर्सिटी; मेंफिस, टेनेसी में हार्डिंग यूनिवर्सिटी ग्रेजुएट स्कूल ऑफ रिलीजन; और मोंटगुमरी, अल्बामा में रीजन्स यूनिवर्सिटी (पहले साउदर्न क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी) में शिक्षा ग्रहण की है। वह B.A., M.A., और M.Div. डिग्री धारक हैं। वह The Third Incarnation के लेखक हैं। माटेंल और उनकी पत्नी डोरिस के तीन बच्चे और नौ पौत्र-पौत्रियां हैं।
मार्टेल पेस

डेनी पेट्रिलो

डेनी पेट्रिलो डेनेवर की बीयर वैली बाइल इंस्टीअ्युट के प्रेजीडेंट हैं। वह वहां पर एक विद्यार्थी थे और योर्क कालेज, हार्उिंग यूनिवर्सिटी, हार्डिंग यूनिवर्सिटी ग्रेजुएअ कालेज और हार्उिंग यूनिवर्सिटी ग्रेजुएअ स्कूल ऑफ रिलीजन में भी शिक्षा ग्रहण की और A.A., B.A. और M.A. की डिग्रियां हासिल की। उन्होंने धार्मिक शिक्षा में यूनिवर्सिटी ऑफ नेबरास्का से अपनी Ph.D. उपाधि हासिल की। पेट्रिलो ने अपना कैरियर धर्मोपदेश और शिक्षाओं के लिए समर्पित कर दिया। उन्होंने पूर्णकालिक रूप से मिसिसिपी में उपदेश दिए और अमेरिका तथा जर्मनी, स्पेन, पनामा, अर्जेंटीना, अफ्रीका और यूक्रेन सहित विदेशों में 300 से अधिक सुसमाचार सभाओं और सेमिनारों अमेरिका और विदेशों में उपदेश दिए। डा. पेट्रि‍लो ने मंगोलिया बाइबल कालेज, योर्क कॉलेज और डेनेवर में स्थित बीयर वैली बाइल इंस्टीट्युट में बाइबल का शिक्षण कार्य किया है। पेट्रिलो के कार्यों में बुक्स ऑफ ईजेकील, 1, 2 टिमोथी, और टइटस पर कमेंटरी और Minor Prophets Study Guide शामिल हैं।

उनके और उनकी पत्नी के तीन बच्चे लैंस, ब्रेट और लॉरा हैं।

डेनी पेट्रिलो

नील टी. प्रायर

स्व. नील टी. प्रायर ने न्यू ओरलेंस बेपटिस्ट सेमिनार से से Th.D. उपाधि प्राप्त की थी। वह पैंतालिस वर्षों तक हार्डिंग यूनिवर्सिटी के विख्यात बाइल प्रोफेसर रहे थे और उस समय के दौरान बाइबल डिपार्अमेंट के चैयरमेन और अकादमिक मामलों के वाइस प्रेजीडेंट भी थे। प्रायर ने You Can Trust Your Bible पुस्तक का लेखन किया। उन वर्षों के दौरान उन्होंने चालीस राज्यों में पांच सौ से अधिक सुमाचार सभाओं में उपदेश दिए। वह सिएरसी में चर्च ऑफ क्रिस्ट में वरष्ठि थे। उनका और उनकी पत्नी ट्रेवा का इक्यावन वर्ष तक विवाहित जीवन रहा। एलन (मृतक) और लॉरी उनके दो बच्चे हैं।
नील टी. प्रायर

डेविड आर. रेश्टिन

डेविड आर. रेश्टिन पैंतालिस वर्षों से धर्मोंपदेश दे रहे हैं और पिछले तीस वर्ष डंकनविले, टेक्सास में क्लार्क रोड, पूर्वनाम सनेर एवेन्यु चर्च ऑफ क्रिस्ट में जनसमुदाय की सेवा व्यतीत किए हैं। उन्होंने बाइबलिकल स्टडीज पर ध्यान देते हुए एबीलेन क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी से M.A. डिग्री प्राप्त की हैं। उन्होंने “प्रभु की इच्छा कैसे निर्धारित करें” और “परमात्मा के साथ संबंध कैसे बनायें” जैसे विषयों पर केंद्रित व्याख्यानों में भाषण दिए हैं। उनके और उनकी पत्न शेरोन से दे लड़के जेम्स और डेनियल हैं।
डेविड आर. रेश्टिन

कॉय डी. रोपर

डा. कॉय डी. रोपर का जन्म डिल सिटी, ओकलाहोमा में हुआ था और अपनी संपूर्ण मिनस्ट्री जीवन में उन्होंने एक उपदेशक, शिक्षक और लेखक के रूप में सेवाएं दी हैं। एबीलेन क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी से बाइबल में B.S. डिग्री (1958) हासिल करने के बाद उन्होंने नॉर्थईस्टर्न स्टेट यूनिवर्सिटी से सेकेण्डरी एजुकेशन में M.T. (1966) किया। इसके बाद रोपर ने एबीलेन क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी से बाइबल और मिशन में M.S. डिग्री (1977) प्राप्त की और उन्होंने अपनी Ph.D. ओल्ड टेस्टामेंटा विषय के साथ (1988) यूनिवर्सिटी ऑफ मिशीगन के डिपार्टमेंट ऑफ नियर स्टडीज से हासिल की थी। रोपर ने ग्रीक विषय के साथ हेरिटेज क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी से M.A. (2007) डिग्री हासिल की। रोपर ने चार्ली, टेक्सास में 1955 में उपदेश देना शुरू किया। उस समय से लेकर उन्होंने ओकलाहोमा, टेनेसी, मिशिगन, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया में धर्मोपदेश दिए। इसके अलावा उन्होंने वेस्टर्न क्रिश्चियन कालेज, मैक्वेरी स्कूल ऑफ प्रीचिंग (नार्थ राइड, ऑस्ट्रेलिया) मिशीगन क्रिश्चियन कालेज, लिप्सकोम्ब यूनिवर्सिटी और हेरिटेज क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी में शिक्षण कार्य किया है। 2000 से 2005 तक, रोपर ने हेरिटेज क्रिश्चियन में डायरेक्टर ऑफ ग्रेजुएट स्टडीज के रूप में सेवाएं दी हैं। वर्तमान में, वह ट्रेंट चर्च ऑफ क्रिस्ट (ट्रेंट, टेक्सास) के लिए उपदेश देते हैं और सिएरसी, अरकंसास में Truth for Today के लिए लिखते हैं। कॉय और उनकी पत्नी शॅरलॉट से तीन बच्चे और दस पौत्र-पौत्रियां हैं।
कॉय डी. रोपर

डेविड एल. रोपर

डेविड एल. रोपर का जन्म और पालन-पोषण ओकलाहोमा में हुआ, एबीलेन क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी में शिक्षा प्राप्त की और बाइबल में BS और MS डिग्री हासिल की। रोपर ने अपने उपदेशक कैरियर की शुरूआत अटारह वर्ष की आयु में की और ओकलाहोमा, टेक्सास और अरकंसास में सात जनसमुदायों में पूर्णकालिक धर्मोपदेशक का पद संभाला। उन्होंने दुनिया के अन्य भागों में भी सुसमाचारों को साझा किया जिनमें इंग्लैण्ड, स्कॉटलैंड, इटली, तुर्की, जापान और रोमानिया शामि‍ल हैं। सिडनी, आस्ट्रेलिया में 1968 से 1977 तक मिशनरीज के रूप में रोपर और उनके परिवार ने एक स्थानीय जनसमुदाय और मैक्वरी स्कूल ऑफ प्रीचिंग के साथ कार्य किया था। रोपर ने अनेक गीत, पुस्तकें और लघुपुस्तकें लिखी हैं। उनकी रचनाओं में The Day Christ Came (Again)Practical Christianity: Studies in the Book of JamesGetting Serious About Love, और Through the Bible हैं। उन्होंने क्रिश्चियन TV और रेडियो कार्यक्रमों में मेजबानी भी की है। रोपर ने सिएरसी, अरकंसास में Truth for Today  के एसोशि‍एट संपादक के रूप में सेवाएं दी हैं और नियमित रूप से लिखते हैं।
डेविड एल. रोपर

डॉन शेकलफोर्ड

डॉन शेकलफोर्ड एक सेवानिवृत्त बाइबल प्रोफेसर ने तीस वर्षों तक सिएरसी, अरकंसास में अध्यापन कार्य किया है। उन्होंने टेक्सास में जुब्बोक क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी में बाइबल डिपार्टमेंट के चैयरमेन के रूप में भी सेवाएं दी हैं। जोल्पिन, मिसौरी के मूल निवासी, शेकलफोर्ड ने ओकलाहोमा क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी में शिक्षा ग्रहण की और अपनी अंडरग्रेजुएट डिग्री डेविड लिप्सकॉम्ब यूनिवर्सिटी से पूरी की थी। उन्होंने न्यू ओलिएंस बैप्टिस्ट थियोलॉजीकल सेमानरी में शिक्षा ग्रहण की और B.D. तथा Th.D. डिग्रियां हासिल की। एक मिनीस्टर के रूप में शेकलफोर्ड ने ओकलाहोमा, टेनेसी, टेक्सास, और लुइसियाना ने जनसमुदाय को र्ध्‍मोपदेश दिए। उन्होंने पालेर्मो, सिसिली, और फ्लोरेंस, इटली में एक मिशनरी के रूप में भी सेवाएं दी हैं। उन्होंने पच्चीस वर्षों से भी अधिक समय तक क्लोवरडेल चर्च ऑफ सिएरसी, अरकंसास में एल्डर के रूप में कार्य किया है। हार्डिंग यूनिवर्सिटी के दौरान शेकलफोर्ड बाइबल के प्रोफेसर और डीन ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज थे। वर्तमान समय में वह Truth for Today के लिए ओल्ड टेस्टामेंट के रूप में परामर्शदाता हैं, एक अनुबंध प्रोफेसर के रूप में पढ़ाते हैं और मोंटगुमरी, अल्बामा में साउदर्न क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी में ओल्ड टेस्टामेंट गेजुएट कोर्स में शिक्षा प्रदान करते हैं। वह ए सर्वे ऑफ चर्च हिस्ट्री के लेखक हैं और लुब्बोक क्रिश्चियन और हार्डिंग दोनो के लिए लेक्चरशिप पुस्तकों का संपादन किया है। उनके लेख गोस्पेल एडवोकेट, रेस्टोरेशन क्वार्टरली, फर्म फाउंडेशन, पॉवर फॉर टुडे और द’ क्रिश्चियन क्रॉनिकल में प्रकाशित होते रहे हैं।

डॉन और उनकी पत्नी जॉयस के पांच बच्चे और पंद्रह पौत्र-पौत्रियां हैं।

डॉन शेकलफोर्ड

डुएन वार्डन

इस सीरिज के लिए एसोशिएट ल्यू टेस्टमेंट संपादक, डा. डुएन वार्डन का जन्म फ्रेंकलिन, अरकंसास में हुआा था लेकिन उनका पालन-पोषण फ्लिंट, मिशीगन में हुआ। उन्होंने A.A. डिग्री फ्रीड-हार्उमेन यूनिवर्सिटी से, B.A. हार्डिंग यूनिवर्सिटी से, M.A.R. हार्डिंग यूनिवर्सिटी ग्रेजुएट स्कूल ऑफ रिलीजन से और न्यू टेस्टामेंट में Ph.D. ड्युक यूनिवर्सिटी से पूरी की है। इसके अतिरिक्त डा. वार्डन नें क्लासिकल स्टडीज में पोस्ट-डॉक्टरेट कार्य कोलंबिया यूनिवर्सिटी और एथेंस, ग्रीस के अमेरिकन स्कूल ऑफ क्लासिकल स्टडीज में पूरा किया है। डा. वार्डन ने ओहियो वैली यूनिवर्सिटी के साथ ही हार्डिंग यूनिवर्सिटी में भी बाइबल फैकल्टी के रूप में सेवाएं दी हैं। वह ओहियो वैली में बाइबल डिपार्टमेंट के चैयरमेन (1986-1993) और हार्उिंग में कालेज ऑफ बाइबल एन्ड रिलीजन में ए‍सोशिएट डीन (1996-2005) थे। उन्होंने एमरिज यूनिवर्सिटी में न्यू टेस्टमेंट के प्रोफेसर के रूप में पढ़ाना जारी रखा है। अध्यापन के अलावा डा. वार्डन ने अपनी पूरी सेवा के दौरान मिनीस्ट्री में भी कार्य किया है। उन्होंने वर्जिनीया, वेस्ट वर्जिनीया और अरकंसास में पूर्ण-कालिक धर्मोपदश दिए है; और उन्होंने ओहियो वैली और हार्डिंग में अध्यापन के दौरान पार्ट-टाइम मिनीस्टी के रूप में सेवा दी है। वर्तमान में वह वैलवेट रिज चर्च ऑफ क्रिस्ट में धर्मोपदेश देते हैं।

डा. वार्डन के अनेक व्याख्यान और लेखक अनेक विद्ववतापूर्ण प्रकाशनों में छपे हैं जिनमें Biblical Interpretation: Studies in Honor of Jack P. LewisClassical Philology, Restoration Quarterly और Journal for the Evangelical Theological Society शामिल हैं। उन्होंने Truth for TodayGospel AdvocateFirm Foundation और Christian Chronicle के लिए भी लेखन कार्य किया है।

उनके और उनकी पत्नी जैनेट का एक पुत्र डेविड एम. वार्डन और एक पालक पुत्र डेविड. ए. मार्टिन हैं।

डुएन वार्डन